Home Bhakti-Bhajan Lyrics Krishan Ji Matnya Roke Bhajan Lyrics – Narender Kaushik New Bhajan

Krishan Ji Matnya Roke Bhajan Lyrics – Narender Kaushik New Bhajan

282
1
krishan ji matnya roke lyrics

Krishan Ji Matnya Roke is a Haryanvi Krishan Bhajan. This Bhajan got a melodious voice of Narender Kaushik.

Krishan Ji Matnya Roke Bhajan Lyrics
Singer: Narender Kaushik
Music Label: Balaji Movies

कृष्ण जी मतण्या रोकै माहरे चालन दे रोजगार ने
कृष्ण जी मतण्या रोकै माहरे चालन दे रोजगार ने ×2

पहला अंतरा
हो मथुरा के में जावा से हम दही बेच के आवा सा
मथुरा के में जावा से हम दही बेच के आवा सा ×2
दो पैसे रोज कमावा हम तारा अपनी उधार ने
दो पैसे रोज कमावा हम तारा अपनी उधार ने
कृष्ण जी मतण्या रोकै माहरे चालन दे रोजगार ने

दूसरा अंतरा
जावन दे फेर वार होवै मेरा मालिक झो में आवेगा
जावन दे फेर वार होवै मेरा मालिक झो में आवेगा ×2
मेरी साटया खाल तार दे कौन ओटे उसकी मार ने
मेरी साटया खाल तार दे कौन ओटे उसकी मार ने
कृष्ण जी मतण्या रोकै माहरे चालन दे रोजगार ने

तीसरा अंतरा
जावन दे फेर गाम होवै या दही घटा ज्या म्हारी
जावन दे फेर गाम होवै या दही घटा ज्या म्हारी ×2
ना नाम खुरा की नारी या चाली जा बेकार ने
ना नाम खुरा की नारी या चाली जा बेकार ने
कृष्ण जी मतण्या रोकै माहरे चालन दे रोजगार ने

चौथा अंतरा
कृष्ण बलराम की जोड़ी मेरी कस के भुजा मरोड़ी
कृष्ण बलराम की जोड़ी मेरी कस के भुजा मरोड़ी ×2
म्हारी मटकी भी क्यों फोड़ी हम पैसे देवा कुमार ते
म्हारी मटकी भी क्यों फोड़ी हम पैसे देवा कुमार ते
कृष्ण जी मतण्या रोकै माहरे चालन दे रोजगार ने

पांचवा अंतरा
तू मान ज्या कृष्ण काले तैने इसे रोक दिये चालै
तू मान ज्या कृष्ण काले तैने इसे रोक दिये चालै ×2
तू घबरा मुरली आले हम सेठ भराही नाल ने
तू घबरा मुरली आले हम सेठ भराही नाल ने
कृष्ण जी मतण्या रोकै माहरे चालन दे रोजगार ने ×2

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here